apple-cider-vinegar

सेब का सिरका । Apple Cider Vinegar

सेब के सिरके में बहुत से अच्छी चीजें पाई जाती है जो कि हमारे हेल्थ के लिए बहुत अच्छी चीज है। आज हम आपको इससे जुड़े सभी जबरदस्त फायदे बताने वाले हैं। इसमें हमने सेब क सिरका कैसे बनाएं, सेब का सिरका के फायदे, सेब के सिरके की कीमत और सभी प्रकार के चीजें शामिल की है।

सेब का सिरका कैसे बनता है

सबसे पहले सेब को ईस्ट(Yeast) के साथ मिलाया जाता है। जिससे सेब के भीतर उपस्थित शुगर अल्कोहल में बदल जाती है। फिर इस एल्कोहल को रासायनिक प्रक्रियाओं के लिए छोड़ देते हैं जिसके कारण एल्कोहल एसिटिक एसिड में बदल जाती है और यह एसिटिक एसिड प्रमुख तत्व है जो सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) में पाया जाता है। शोधकर्ताओं द्वारा पाया गया कि सेब के सिरके में उपस्थित सभी गुण एसिटिक एसिड के कारण होते हैं।

प्राचीन इतिहास में सेब के सिरके का उपयोग

बहुत ही प्राचीन समय लगभग 2000 वर्ष पूर्व से ही सेब के सिरके का उपयोग देखने को मिलता है। प्राचीन समय में हिप्पोक्रेट्स जो कि फादर ऑफ मेडिसिन कहलाए उनके द्वारा शरीर के जख्मो को साफ करने के लिए इस सिरके का उपयोग किया करते थे। इसके साथ साथ नाखूनों के फंगल इन्फेक्शन कान में इन्फेक्शन या अनेकों प्रकार के स्किन इन्फेक्शन उनको ठीक करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता था। इस तरह पुराने हजारों वर्षों से सेब के सिरके का उपयोग होता हुआ आया है और अब आधुनिक विज्ञान भी इसे मान चुकी है कि सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं।

सेब के सिरके के फायदे

सेब का सिरका में अनेक प्रकार के औषधि गुण होते हैं जो कि हमारे शरीर को ढेरों लाभ पहुंचाते हैं।

त्वचा के लिए फायदेमंद

सेब के सिरके को चेहरे पर लगाने से चेहरे में निखार आता है वह फुंसियां, झुरिया और कील मुंहासे साफ होते हैं। अगर आपको Acme, Aczema, Dry Skin समस्या है तो सेब का सिरका का इस्तेमाल करके इन को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

ब्लड शुगर नियंत्रण में फायदेमंद

अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं और आपका ब्लड शुगर लेवल हाई (उच्च) रहता है तो सेब के सिरके का उपयोग कर सकते हैं। जब शरीर में इंसुलिन की कमी या उनके कम बनने जैसी समस्याएं होती है तो उस समय ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। ऐसे में सेब के सिरके लेने के फायदे मिलते हैं। जब लगातार सेब के सिरके का सेवन किया जाता है तो यह इंसुलिन की क्षमता को बढ़ाता है और शुगर लेवल भी नियंत्रित रखता है।

वजन घटाने में फायदेमंद

अगर आप अपना वजन घटाना चाहते हैं तो सेब का सिरका आपके लिए बहुत ही ज्यादा मददगार साबित हो सकता है। अधिकतर लोग जिनके द्वारा वजन कम किया गया है उनके द्वारा सेब का सिरका ही उपयोग किया जाता था। विज्ञान भी प्रमाणित कर चुका है कि सेब के सिरके का उपयोग वजन कम करने और फैट(मोटापा) कम करने का काम करता है। साथ ही यह पेट को भरा रखने का काम करता है जिससे हमें बार-बार खाना नहीं खाना पड़ता और जिससे वजन व चर्बी आसानी से कम हो जाती है।

स्वस्थ हृदय में सहायक

सेब के सिरके का नियमित सेवन हमारे हृदय के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। यह हमारे रक्त से कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम करता है साथ ही ट्राइग्लिसराइड भी कम करता है और ब्लड प्रेशर भी काफी हद तक कम करता है। इस तरह आप इन समस्याओं से परेशान है तो सेब के सिरके का सेवन हमारे स्वस्थ हृदय के लिए आवश्यक है।

कैसे करें सेब का सिरका का इस्तेमाल

सेब का सिरका एक प्रकार का एसिटिक एसिड है। इसे चेहरे पर या अन्य कामों में सीधे तौर पर उपयोग नहीं लिया जा सकता। यह काफी तेज होता है जिसको सीधे तौर पर उपयोग करने से फायदे की जगह नुकसान हो जाता है। अगर आपने इसको सीधे अपने चेहरे पर लगा लिया बिना डाइल्यूट (दृवित) किए तो यह चेहरे को जला सकता है। इसको सही व सुरक्षित तरीके से इस्तेमाल करने के तरीके निम्न है-

1.खाने के साथ – खाना बनाते समय बहुत सारे व्यंजन (पकवान) ऐसे होते हैं जिनमें आप साधारण सिक्के की जगह सेब के सिरके का उपयोग कर सकते हैं। इसके साथ-साथ बहुत से प्रकार के सलाद, कच्ची सब्जियां के साथ भी इसे खाया जाता है।

2. पानी में घोलकर पीना– यह सेब के सिरके को पीने का सबसे लोकप्रिय तरीका है। इसके अंतर्गत सेब के सिरके की 5 से 10ml मात्रा (एक से दो चम्मच) को एक बड़े से गिलास जिसमें 250 से 300 ग्राम जल में मिला कर लेनी चाहिए। इससे ज्यादा सेब के सिरके की मात्रा नहीं लेनी चाहिए। अगर सेब के सिरके को कम पानी की मात्रा में लिया जाता है तो यह एसिटीक गुण के कारण नुकसान भी कर सकता है।

3. सीधे तौर पर (टॉपिकल) इस्तेमाल– सेब के सिरके को सीधे तौर पर चेहरे या त्वचा पर लगाने के लिए इसे 1:3 की मात्रा में सिरका और पानी की मात्रा मिलानी चाहिए। इस तरह सेब के सिरके को द्रवित करके ही इस्तेमाल करना चाहिए।

इसके नुकसान

वैसे तो सेब का सिरका सभी प्रकार से फायदेमंद है किंतु इसमें उपस्थित ऐसी ट्रिक एसिडिटी के कारण इसे संभाल कर इस्तेमाल करना चाहिए। इसमें उपस्थित एसिटिक एसिड का सीधा इस्तेमाल चेहरे को जला सकता है। यह सीधे तौर पर पीने से मुंह में जबड़े को नुकसान पहुंचा सकता है। पेट में आहार नली को जला सकता है। सीधे तौर पर इसका उपयोग पाचन में सहायक एंजाइम को भी खत्म कर सकता है। इसलिए सीधे तौर पर सेब के सिरके का उपयोग ना करके इसे द्रवित या भोजन के साथ ही लिया जाना चाहिए।

FAQ Section

सेब के सिरके के इस्तेमाल से जुड़े सभी प्रश्नों के बारे में हमने बताया है जिनको पढ़कर आप संतुष्टि पा सकते हैं।

सेब का सिरका किस से बनता है?

Ans: सेब का सिरका सेब(Apple) के ताजे फलों से बनाया जाता है। इसे रासायनिक प्रक्रम और कुछ चीजें मिलाकर सिरका तैयार किया जाता है।

क्या सेब के सिरके में एसिड पाया जाता है?

Ans: हां। सेब के सिरके में एसिड पाया जाता है। सीधे तौर पर सेब के सिरके का सेवन हमारे लिए नुकसानदायक हो सकता है।

सेब के सिरके को कब इस्तेमाल करना चाहिए?

Ans: सेब के सिरके को प्रातः भ्रमण के समय लेना और रात्रि सोने से 1 घंटे पूर्व लेना सबसे अच्छा रहता है। नियमित इसका सेवन हमारे शरीर में कई प्रकार से फायदा करता है।

सेब का सिरका कैसे खरीदें?

Ans: मार्केट मैं सेब का सिरका 100ml, 500ml, 1लीटर की मात्रा में उपलब्ध है । इन्हें आप ऑनलाइन (Amazon) व ऑफलाइन दोनों प्रकार से खरीद सकते हैं। जिनमें Patanjali Apple Vinegar, WOW Organic Cider Vinegar, Dabar Himalayan Apple Cider Vinegar, Zandu Organic Cider Vinegar आदि प्रमुख है।

निष्कर्ष

अगर आप स्वास्थ्य के बारे में जागरूक है तो आपने कभी ना कभी सेब के सिरके के बारे में अवश्य सुना होगा। अगर आप सेब के सिरके का इस्तेमाल कर रहे हैं या करने वाले हैं तो हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए संतुष्टि करने का काम करेगी। इससे जुड़ी काफी शंकाएं और स्वास्थ्य के लाभ के बारे में पता चला होगा।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.